पर्सनल लोन कैसे ले – personal loan kaise le ki jankari

पर्सनल लोन कैसे ले : भारत एक महान देश है। यह विश्व का उभरता हुआ देश है। यह सभी एक आनन्दमय जीवन यापन करना चाहते है। यह तो आप भी जानते हो आनंदमय जीवन के लिये सबसे महत्वपूर्ण वस्तु में से एक धन हे जिसके बिना हम बहुत सी वस्तु का आनन्द नही ले सकते है। यदि आपके पास धन की कमी है तो आप इसके लिये पर्सनल लोन के लिये आवेदन कर सकते हो। जिससे आप अपने जरूरत की वस्तु के ऊपर रुपये खर्च कर सके। आइये सीखे पर्सनल लोन कैसे ले और साथ अन्य जानकारिय। आप इस पर्सनल लोन की यह जानकारी पूरी पढ़ना जिससे आपको लोन की सम्पूर्ण जानकारी हो सके। personal loan kaise le
पर्सनल लोनpar

पर्सनल लोन की ब्याज दर

समय समय पर पर्सनल लोन की ब्याज दर बदलती है। हम आपको वर्तमान की ब्याज दर बता रहे है। आप अपने अनुसार पर्सनल लोन में अंतर कर सकते हो। personal loan kaise le

no. company name ब्याज दर
1 Aditya Birla Finance Personal loan 11.00% to 13.75%
2 Capital First Personal loan 12% to 18%
3 CitiBank Personal loan 10.99% to 16.49%
4 HDFC Bank Personal loan 10.99% to 21.25%
5 ICICI Bank Personal loan 11.49% to 18.25%
6 IndusInd Personal loan 11% to 16%
7 India Infoline Finance Ltd 13.49% to 19.99%
8 Kotak Personal loan 10.99 to 17.99%

लोन लेने से पहले जाने इंट्रेस्ट रेट

हर बैंक की अलग अलग ब्याज दर से पर्सनल लोन देती है। इन ब्याज लेने का तरीका भी दो प्रकार का होता है। रेड्यूसिंग बैलेंस पर ब्याज, फ्लोटिंग इंट्रेस्ट रेट और फ्लैट रेट ऑफ इंट्रेस्ट रेट या फिक्स इंट्रेस्ट रेट से लोन देती है। आपको तय करना है की आपको किस ब्याज दर के अनुसार ब्याज दर से लोन लेना है।

फ्लोटिंग बॅलेन्स पर लोन
यदि आप फ्लोटिंग इंट्रेस्ट रेट के अनुसार ब्याज दर से लोन लेते हो तो इसमें समय के अनुसार इंट्रेस्ट रेट कम होता रहता है। जैसे यदि 1 लाख रुपये लिये है। जिसमे से 10 हजार रुपये लाख चूका देते हो। तो अब 90000 पर ही ब्याज लगेगा। इसी तरीके से ब्याज दर कम होता रहेगा।
फिक्स इंट्रेस्ट रेट
बैंक आपको फिक्स इंट्रेस्ट रेट की भी सुविधा देता है। यदि आप यह इंट्रेस्ट रेट चुनते हो तो इसमें ब्याज दर हमेशा फिक्स रहती है। इसमें ब्याज दर नही बदलती है। यदि आप 10% की दर से ब्याज से लोन चूका रहे हो तो जब तक लोन पूरा नही हो जाता है आपको इसी प्रतिशत से ब्याज से लोन चुकाना होता है। वर्तमान में इसी प्रकार से लोन चुकाना पसन्द करते है। जिस कारण फिक्स इंट्रेस्ट रेट पहली पसन्द है।
फ्लोटिंग इंट्रेस्ट रेट
जैसे की इस इंट्रेस्ट रेट की नाम से ही पता चल रहा है। यह किस प्रकार का इंट्रेस्ट रेट है। इस प्रकार का ब्याज दर समय के अनुसार कम ज्यादा होता रहती है। इसमें कोई फिक्स नही होता है। इसी कारण इसे फ्लोटिंग इंट्रेस्ट रेट कहते है। जैसे जब आपने लोन लिया है उस वक्त 12 प्रतिशत से लोन चूका रहे हो तो कुछ समय बाद यह 11 भी हो सकता हे तो 14 भी हो सकता है।
यदि आपको लगे आने वाले समय में इंट्रेस्ट कम हो सकता हे तो फ्लोटिंग इंट्रेस्ट रेट चुने। इसके लिये विशेषज्ञ की सलाह ले। तभी पर्सनल लोन कैसे ले।

पर्सनल लोन प्रोसेसिंग फीस और अन्य चार्ज जाने

यदि लोन लेना तय कर लिया हे तो क्या आप जानते हे लोन प्रोसेसिंग फीस क्या होती है। यदि नही हे तो पता कर ले। लोन स्किम में कुछ खर्च होते है। जो चुकाने होते है। जितना रुपये के लोन लेते हो इनका चार्ज भी उतना ही ज्यादा होता है। इसमें प्रोसेसिंग फीस, दस्तावेजो का खर्चा, प्री पेमेंट चार्ज, पेनल्टी जैसी कई चार्ज होते है। जो बैंक नही बताती है। इसलिये इसके बारे में पता कर ले।

पर्सनल लोन के लिये आवश्यक दस्तावेज

यह देखा जाता है कि आप कोई भी लोन लो सभी में लगभग समान दस्तावेज की आवश्यकता होती है। सिर्फ एक दो दस्तावेज में कम ज्यादा होता है। पर्सनल लोन में भी यह ही है।
आपकी पासपोर्ट फोटोग्राफ, इनकम प्रूफ, पहचान पत्र, पते के लिये राशन कार्ड या किसी का बिल जैसे बिजली, नल आदि का बिल, पैन कार्ड, आय का प्रूफ जिसके लिये नोकरी करने वाले पे स्लिप दे सकते है। बैंक में खाता इस प्रकार के। दस्तावेज तैयार करे।

किस बैंक से पर्सनल लोन लेना चाहिये।

यह प्रश्न सभी के मन में होता है। मुझे किस बैंक से प्रश्न लोन लेना चाहिये। इसका बहुत ही सिंपल सा जवाब हे जिसकी ब्याज दर कम हो उससे ले या आपका अकाउंट जिस बैंक में हे उससे पर्सनल लोन ले।
क्योकि आप जिस बैंक से लोन लेते हो वो आपका पुराना रिकॉर्ड चेक करते है। फिर लोन देते है। यदि आपका अकाउंट जिस बैंक में होता है और उसमें समय समय पर लेन देन होती रहती है तो बैंक आपको लोन देने में ज्यादा दिक्कत नही करता है। यदि किसी अन्य बैंक से लोन लेने चाहते है तो वो कई नियम बताते है। जिससे यह जरूर कहते हे आपका अकाउंट हमारे में बैंक में होना चाहिये। और 6 महीना पुराना अकाउंट होना चाहिये।

पर्सनल लोन देने वाली कंपनी के नाम और इनकी जानकारी

भारत में जो लोन देती है। जिनमे पर्सनल लोन सभी कंपनी देती है। इन सभी कंपनी की नयी नयी नियम होते है। जिसके कारण इनकी ब्याज दर भी अलग अलग होती है। हम इन कंपनी के बारे में बता रहे है जिससे आप आसानी से पर्सनल लोन प्राप्त कर सकते है। भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, महिंद्रा कोटक बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, देना बैंक, पंजाब नेशनल बैंक आदि कंपनी पर्सनल लोन देती है।

पर्सनल लोन के महत्वपूर्ण लिंक
एटीएम से पर्सनल लोन कैसे ले
भारतीय स्टेट बैंक पर्सनल लोन
बिना गारंटी लोन की जानकारी

 

पर्सनल लोन प्रोसेसिंग फीस और अन्य चार्ज जाने

यदि लोन लेना तय कर लिया हे तो क्या आप जानते हे लोन प्रोसेसिंग फीस क्या होती है। यदि नही हे तो पता कर ले। लोन स्किम में कुछ खर्च होते है। जो चुकाने होते है। जितना रुपये के लोन लेते हो इनका चार्ज भी उतना ही ज्यादा होता है। इसमें प्रोसेसिंग फीस, दस्तावेजो का खर्चा, प्री पेमेंट चार्ज, पेनल्टी जैसी कई चार्ज होते है। जो बैंक नही बताती है। इसलिये इसके बारे में पता कर ले।

1. अपनी पात्रता जांचें – Check your Eligibility

Personal Loan एक असुरक्षित लोन माना जाता है क्योकि इसकी ब्याज दर interest rate दूसरे लोन जैसे Home loan से ज्यादा होती है। इसलिए पहले अच्छी तरह से सोच समझ ले तभी personal loan ले।
personal loan kaise le
Bank लोन देने से पहले आपकी सेलरी देखेगा की आप लोन के लिए पात्र हो या नही जैसे उदाहरण के लिए icici Bank आपकी सेलरी के आधार पर loan approve करता है। ग्रामीण क्षेत्र, छोटे शहर व कस्बो मे आपकी सेलरी 17500 होना जरूरी तथा बड़े शहरो मे 25000 तक होना आवश्यक है। यह आंकड़ा हर बैंक का अलग हो सकता है। और कुछ bank आपकी जमीन और मकान के ऊपर भी personal loan देते है। इसलिए आप बैंक मे जाकर इसकी पूरी जानकारी ले सकते है या फिर आप हमारी दूसरी पोस्ट में अलग – अलग बैंक के प्लान देख सकते हो।
icici Personal loan Apply Online – icici बैंक लोन सिर्फ 3 दिन में

2. Kotak Mahindra Bank personal Loan apply

टर्म्स ऑफ़ कंडीशन जरूर पड़े:
Loan लेने से पहले एक बार लोन के कागज पर terms and condition जरूर पड़े आपको लोन लेने से पहले यह बात पता होनी चाहिए की आपकी ब्याज दर क्या है। आपको किस्त किस हिसाब से देनी है। और आपका loan कब तक पूरा हो जायेगा।

पर्सनल लोन लेते समय क्या रखे सावधानियां

(A). हम जब पर्सनल लोन ले रहे हो तो सोच समझ कर ही लीजिये। क्योकि पर्सनल लोन की ब्याज दर बहुत ज्यादा होती है।

(B). आप कभी भी पर्सनल लोन पर ज्यादा बड़ी राशि नही लेनी चाहिये। क्योंकि इस लोन की राशि को चुकाना बहुत मुश्किल हो जाता है। इसलिये लोन की राशि जितना हो आप उतना कम लेने की कोशिश करे।

(C). आप जब पर्सनल लोन ले रहे तो तो उसकी emi पर भी ध्यान रखे। आपकी एक महीने में कितनी रुपये की emi रहने वाली है।

(D). यदि आप लोन ले रहे हो तो आप इस लोन की राशि को किस तरह चुकानी हे। लोन की राशि चुकाने के लिये डबल व्यवस्था रखनी चाहिये। यदि आपकी अचानक व्यवसाय नुकसान में चले जाये तो emi कैसे चुकायेगें। इसलिय लोन सोच समझ कर लीजिये।

(E). कभी भी कोई ID Proof देते समय उसकी ज़ेरोक्स पर हस्ताक्षर करते समय विषय लिखकर ही हस्ताक्षर करें. जैसे – केवल मोबाइल सिम लेने के लिए, केवल बैंक लोन लेने के लिए

(F). चाहे Personal लोन हो या फिर Home Loan – हमेशा बड़े बैंक से या Nationalize Bank से ही लेना चाहिए

(G). एजेंटों से सावधान : बाज़ार में ऐसे एजेंट भी मौजूद है जो ना ही किसी बैंक से संबंध रखते हैं और न ही किसी निजी संस्था से या डीएसए से, इस तरह के लोगों का मक़सद किसी तरह कस्टमर को Loan के लिए राज़ी करना होता है। लोन दिलाने के लिए वे कस्टमर से अच्छा-ख़ासा कमीशन ऐंठ लेते हैं। इनसे बचने के लिए किसी भरोसेमंद फ़ायनेंशियल प्लानर या फिर CA से एक बार अवश्य बात कर लें होता है। Loan दिलाने के लिए वे Customer से अच्छा-ख़ासा कमीशन ऐंठ लेते हैंI इनसे बचने के लिए किसी भरोसेमंद फ़ायनेंशियल प्लानर या फिर सी.ए. से एक बार अवश्य बात कर लें।

पर्सनल लोन की ब्याज दर कैसे तय होती है

सभी कंपनी के ब्याज दर में बहुत अंतराल हे। मुझे किस इंटरेस्ट रेट पर लोन मिलेगा। आपका इस सवाल का हम उत्तर दे रहे है। यह सभी व्यकित के अनुसार अलग अलग होती हे। personal loan kaise le इसके लिए ब्याज दर कैसे तय होती है।

1. यदि आपकी कोई सरकारी नोकरी हे तो आपको बैंक खुद आगे होकर लोन देने की कोशिश करेंगे। जिससे आप खुद परेशान हो जाओगे। यदि आप कोई मजदूरी करते हो तो आपको बैंक के चक्कर काटना पड़ेगा।
आप सोचो ज्यादा जरूरत आपको हे इसलिये आपसे ब्याज दर ज्यादा लेगा।

2. जो महिला होती है उस पर 0.50% का ब्याज दर कम लगता है। आज कल जब पर्सनल लोन लेना होता है सभी महिलाओं के नाम पर ही लेते है जिससे ब्याज दर कम लगे।

3. आपका क्रेडिट स्कोर कितना है। आपका क्रेडिट स्कोर जितना अच्छा होगा। आपको लोन उतनी जल्दी और कम ब्याज पर मिलेगा। क्रेडिट स्कोर बैंक तैयार करती है और पुराना रेकॉर्ड देखती है।

4. यदि आपको अच्छा वेतन मिलता हो तो और उसका दस्तावेज आपके पास हो तो आप बैंक में जाकर अच्छी तरह बात करे। और उन्हें ऐसा बताये में आसानी से लोन चूका दूंगा। जिससे कम ब्याज दर में कमी हो सकती है। जिससे आपको कम ब्याज दर में लोन मिल सकता है।

हमने इस पोस्ट में personal loan ki jankari चुके है। यदि आपको कोई और जानकारी प्राप्त करनी है तो आप हमें कमेंट कर सकते हो। हम आपके सभी प्रश्न का उत्तर देंगे।

Updated: 01/07/2018 — 11:55 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

in hindi © 2018 Frontier Theme