एनपीएस की पूरी जानकारी नेशनल पेंशन स्कीम nps account

national Pension Scheme nps
एनपीएस का मतलब है नेशनल पेंशन स्कीम, एनपीएस एक पेंशन योजना है। यह भारत सरकार द्वारा शुरू की गयी एक पेंशन योजना है। यह 01 जनवरी 2004 से शुरू हुई थी। शुरुआत में एनपीएस सरकार में भर्ती होने वाले नए व्‍यक्तियों के लिए चालू की गई थी। पर 1 मई 2009 से यह असंगठित क्षेत्र के कामगारों सहित देश के सभी नागरिकों को प्रदान की जा रही है। इस योजना के सहारे सरकार ने स्वयं को पेंशन की जिम्मेदारी से मुक्त करने की कोशिश की है। सरकार की भूमिका सिर्फ शुरुआती दौर में अंशदाता के रूप में है।

एनपीएस क्या है

आप इस योजना में अपने रिटायरमेंट के लिए निवेश करते हैं। आपके निवेश और उस पर मिलने वाले रिटर्न से आपके एनपीएस खाते में काफी सारा पैसा जमा हो जाता है। रिटायर होने पर या 60 वर्ष की आयु के होने पर आप अपना खाता बंद कर सकते हैं। खाता बंद करते समय आप कुछ पैसा एक मुश्त निकाल सकते हैं। ओर बाकी का पैसे से आपको वार्षिकी प्लान खरीदना होगा।
नोट:- आपको कम से कम 40% जमा राशि से एक वार्षिकी (annuity plan) खरीदना होगा।

उदाहरण:- मान लीजिए आपने 60 वर्ष तक की आयु तक आपने अपने एनपीएस खाते में 10 लाख रुपये जमा कर लिए हैं। अब आप एनपीएस खाते से 6 लाख रुपये एक साथ निकाल सकते हो। और बाकी के 4 लाख रुपये से आपको एन्युटी प्लान (वार्षिकी) खरीदना ही होगा।
अगर आप चाहें तो अपने पूरे पैसे का इस्तेमाल भी एन्युटी प्लान खरीदने में कर सकते हो।

अब आपके दिमाग मे आ रहा होगा कि एन्युटी प्लान क्या है। एन्युटी प्लान में आपका पैसा किसी बीमा कम्पनी में जमा हो जाता है। ओर उसके बदले आपको पूरे जीवन भर पेंशन मिलती रहती है। उदाहरण के तौर पर मान ले आपके पास 10 लाख रुपये हैं। और उस समय एन्युटी का इंटरेस्ट रेट 6% चल रहा है। तो बीमा कंपनी आपसे 10 लाख रुपये लेकर आपको आजीवन हर वर्ष 60,000 (10 लाख X 6%) रुपये देगी। ओर अगर आप मासिक आय का ऑपशन चुनते हो, तो आपको हर महीने 5,000 रूपये मिलेंगे। आप इन दोनों में से कुछ भी चुन सकते हो।
एन्युटी प्लान के कई प्रकार होते है। जैसे की अगर आप चाहें तो आपके बाद भी आपके पति या पत्नी को भी पेंशन जारी रह सकती है। आपको फॉर्म में यह चुनना होगा।

एनपीएस मे सेक्टर : एनपीएस में चार सेक्टर होते हैं। ओर आप जिस तरीके से खाता खोलते हैं, उससे तय होता है, की आप किस एनपीएस सेक्टर के तहत आते हो।

1. Central Government (केन्द्रीय सरकार): केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों के लिए

2. State Government (राज्य सरकार): राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए

3. Corporate Sector: निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए

4. All Citizens Model: अगर आप खुद अपने लिए NPS account खोलते हैं

एनपीएस का खाता पूरी तरह से पोर्टेबल है। इसका मतलब यह है कि, भले ही आपने अपना खाता केंद्रीय सरकार एनपीएस के तहत खोला हो, ओर बाद में आप नौकरी छोड़ देते हो या फिर बदल लेते हो तो आप अपना एनपीएस खाता दूसरे सेक्टर में बदल सकते हैं।

एनपीएस खाता कैसे खोलें

एनपीएस खाता खोलने के कई तरीके है। आप अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जा कर भी अपना एनपीएस का खाता खोल सकते हैं। या फिर किसी ब्रोकर की website पर से आप एनपीएस का खाता online खोल सकते हैं।

एनपीएस में कितना रिटर्न मिलता है

एनपीएस में रिटर्न की कोई गारंटी नही है और ना ही सरकार हर वर्ष रिटर्न की कोई घोषणा करती है। आपको रिटर्न आपके निवेश के ऊपर मिलता है। आप किस जगह पर एनपीएस के रुपयो का निवेश करते हो। आपके पास निवेश के कई विकल्प है।
(A). आप इक्विटी फण्ड (E) में पैसा लगा सकते हैं

(B). आप सरकारी बोंड्स (G) में पैसा लगा सकते हैं

(C). आप कॉर्पोरेट बांड्स (C) में पैसा लगा सकते हैं
अब आपको इसके साथ – साथ फण्ड मेनेजर का चुनाव भी करना पड़ता है।

आपके पास एनपीएस निवेश के 2 तरीके है।

1. आप खुद अपने निवेश का तरीका चुन सकते हो। आपको अपना पैसा किस जगह पर निवेश करना है ओर कितना पैसा (E), (G) या (C) में डालना है| इस Active Choice कहते हैं।
नोट:- E, G ओर C का मतलब आप ऊपर देख सकते हो।
मतलब आप अपना पैसा किसी भी रूप में निवेश कर सकते हो।

2. दूसरा तरीका सरकारी कर्मचारियों के लिए नही है। यह सिर्फ कॉर्पोरेट सेक्टर एनपीएस और आल सिटीजन्स मॉडल एनपीएस ग्राहकों के लिए ही है। इनके पास ऑटो चॉइस का विकल्प भी है। नीचे दिए गए चार्ट के अनुसार आपकी आयु के अनुसार आपके एनपीएस पोर्टफोलियो में बदलाव होता रहता है। इसे Auto Choice या Life Cycle Fund भी कहते हैं।

एनपीएस में टैक्स बेनिफिट

एनपीएस में Tax Benefit मिलता है। इसी वजह से अधिकतर व्यक्ति nps में निवेश (Investment) करना पसंद करते है।

(Q.1)एनपीएस से पैसा निकालने पर कितना टैक्स लगता है?
आपने nps में पैसा निवेश किया है तो कभी न कभी उसे निकालना भी होगा। उसके बारे में हम विस्तार से बात करेंगे।

यदि आप सरकारी कर्मचारी हैं। और आपने Government NPS में निवेश किया हुआ है, तो आपको 60 साल की उम्र या सुपर-एनुयेशन (super-annuation) पर NPS से निकलना (exit करना) होगा।

अगर आपने All-Citizen Model NPS में निवेश किया है, तो आप 60 साल की आयु पर NPS से पैसा निकल सकते हो। पर अगर आप चाहें तो 70 साल की उम्र तक भी NPS में इन्वेस्ट कर सकते हो।

(Q.2) NPS से exit के समय कितना पैसा निकाल सकते हैं?
1. कम से कम जमा राशि के 40 प्रतिशत (40% हिस्से) से Annuity (एन्युटी या वार्षिकी) खरीदनी पड़ेगी| ध्यान रखें उससे ज्यादा की भी खरीद सकते हैं|

2. आप 60% (साठ प्रतिशत) तक राशि एक मुश्त (lumpsum) भी निकल सकते हैं| आपको सारी राशि एक बार में निकालने की ज़रुरत नहीं है| आप चाहें तो यह राशि 70 साल की उम्र तक 10 सालाना किश्तों (annual installments) में भी निकाल सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिये की आपके रिटायर होने तक आपने 5000000 (पचास लाख) रुपये अपने NPS account में जमा किये हैं। ऐसे में आपको कम से कम 20 लाख रुपये से Annuity प्लान खरीदना होगा ओर आप चाहें तो सारी जमा राशि Annuity प्लान खरीदने की लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। या फिर बची हुई राशि को आप एक मुश्त में निकाल सकते हैं।

(Q.3) एक मुश्त पैसा निकालने पर कितना टैक्स देना होगा?

कुल जमा राशि का चालीस प्रतिशत (40%) हिस्सा ही टैक्स फ्री होगा। अगर आप 40% से ज्यादा पैसा एक मुश्त निकालते हो, तो आप बची हुई राशि (40% के ऊपर) पर आपको टैक्स देना होगा|

  • ध्यान दें की आप 60 प्रतिशत तक एकमुश्त पैसा निकाल सकते हो। केवल 40% तक की राशि पर टैक्स नहीं लगेगा|
  • अगर 40% से ज्यादा पैसा निकालोगे, तो आपको अपने टैक्स ब्रैकेट के हिसाब से टैक्स भरना होगा।
  • हमने ऊपर की ओर चर्चा की है कि आप यह पैसा 10 सालाना किश्तों (annual installments) में निकाल सकते हैं। ओर यदि आप अपने टैक्स का भार (tax liability) कम करने के किये आप NPS से अपने withdrawal को कई सालों में भी फैला सकते हैं।
  • Annuity से हुई कमाई पर आपको टैक्स देना होगा?
  • Annuity plan से मिली किसी भी राशि (आय) पर आपको अपने टैक्स bracket के अनुसार टैक्स देना होगा।
  • क्या 60 वर्ष की आयु से पहले आप एनपीएस से पैसा निकाल सकते हैं?
  • जी हाँ, कुछ विशिष्ठ परिस्थितियों में एनपीएस से कुछ पैसा निकालने की अनुमति है|
  • आप गंभीर बीमारियों की इलाज़ के लिए, बच्चों की उच्च शिक्षा या विवाह के लिए या घर खरीदने या बनाने के लिए अपने एनपीएस खाते से कुछ पैसे निकाल सकते हैं|
Updated: 21/01/2019 — 1:47 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

in hindi © 2018 Frontier Theme