Share market news hindi

Stock Market: अमेरिकी शेयरों में निवेश करने में क्यों दिलचस्पी लेने लगे हैं भारतीय निवेशक?

Stock Market: अमेरिकी शेयरों में निवेश करने में क्यों दिलचस्पी लेने लगे हैं भारतीय निवेशक?

एशियन डिवेलपमेंट बैंक (Asian Development Bank) ने भारत की ग्रोथ का अनुमान घटा दिया है। मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की जीडीपी ग्रोथ 10 फ़ीसदी रह सकती है। मोदी सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में संसद से 23,674 करोड़ रुपये और खर्च करने की अनुमति मांगी है।

खुदरा निवेशकों की दिलचस्पी

पिछले कुछ महीने से भारतीय शेयर बाजार (Stock Market) के निवेशक अब अमेरिकी शेयरों (USA Stock) में निवेश करने लगे हैं। विदेशी बाजार में निवेश की राह आसान होने की वजह से निवेशकों को यह सुविधा मिली है। टेक्नोलॉजी, नियामक और कंप्लायंस संबंधी आधुनिक प्रक्रिया की वजह से निवेशकों को यह सुविधा मिलने लगी है। भारत में कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण के संकट की वजह से जून 2021 में शेयर बाजार का बेंचमार्क सूचकांक करीब 6 फ़ीसदी बढ़ा है।

ट्रांजेक्शन हुआ दोगुना

कोरोना संकट की वजह से देश में निवेशकों का सेंटीमेंट बिगड़ रहा है। विनवेस्ता नाम की ग्लोबल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल भारतीय निवेशकों का औसत अकाउंट साइज $2000 था जो इस साल जून तिमाही में बढ़कर $4700 हो गया है। ग्लोबल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर ट्रांजैक्शन का औसत साइज $850 है। वैसे अगर औसत साइज की बात करें तो यह $120 पर है।

महिलाओं की संख्या बढ़ी

पिछले कुछ समय में अमेरिकी शेयर बाजार में निवेश करने वाली महिला निवेशकों की संख्या बढ़ी है। इसके साथ ही उनके निवेश की रकम और रिटर्न में भी इजाफा हुआ है। इसके बाद भी हकीकत यह है कि इस प्लेटफार्म पर निवेश करने वाले 90 फ़ीसदी लोग पुरुष हैं। पिछली तिमाही में महिलाओं की इस प्लेटफार्म पर हिस्सेदारी 6 फ़ीसदी थी जो अब बढ़कर 10 फ़ीसदी पर पहुंच गई है।

महिलाएं ले रही हैं जोखिम

अगर बात जोखिम उठाने की करें तो महिला इन्वेस्टर ज्यादा जोखिम ले रही हैं। महिला निवेशकों की शुरुआती निवेश की रकम पुरुष प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में 60% से अधिक है। अगर बात अमेरिकी शेयरों में निवेश करने वाले लोगों की करें तो हर पांच में से तीन निवेशक 25 से 40 वर्ष के उम्र के बीच का है।अगर कंपनी के यूजर बेस की बात करें तो 18 से 25 साल की उम्र के 10 फ़ीसदी से ज्यादा यूजर विदेशी शेयरों में निवेश कर रहे हैं। मुंबई, बेंगलुरु और दिल्ली के इन्वेस्टर विदेशी शेयरों में निवेश करने में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे हैं।

किन शेयरों में कर रहे निवेश

भारत के अहमदाबाद जैसे शहरों से भी निवेशक विदेशी शेयर में निवेश करने में जुटे हैं। अगर बात पसंदीदा कंपनियों की करें तो अर्नाकुलम और कानपुर के युवा फेसबुक, ऐमजॉन, एपल, नेटफ्लिक्स और गूगल के साथ टेस्ला जैसी कंपनियों में निवेश कर रहे हैं। जून तिमाही में हालांकि इन कंपनियों में निवेश का क्रेज कम हुआ है। अप्रैल-जून 2021 की तिमाही में निवेशकों ने अब गेमस्टॉप, एएमसी एंटरटेनमेंट, पालंतिर टेक, कॉइन बेस जैसी कंपनियों में निवेश करना शुरू किया है।इलेक्ट्रिकल व्हीकल और ब्लॉकचेन सेक्टर ट्रांजैक्शन वॉल्यूम के हिसाब से निवेश के लिए पसंदीदा सेक्टर कहे जा सकते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The Latest

To Top