Share market news hindi

Gainers & Losers:लगातार दूसरे दिन भी बाजार में दबाव, इन शेयरों में रही सबसे ज्यादा हलचल

खराब ग्लोबल संकेतों से लगातार दूसरे दिन भी बाजार में दबाव रहा। बाजार 1 महीने के निचले स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी 120 प्वाइंट गिरकर 15,632 तो सेंसेक्स 355 प्वाइंट गिरकर 52,199 पर बंद हुआ। आज भी मिड और स्मॉल कैप में गिरावट रही। वहीं बैंकिंग, रियल्टी और मेटल शेयर सबसे ज्यादा टूटे।

इन शेयरों में रही सबसे ज्यादा हलचल

Asian Paints | CMP: Rs 3,145.05 | अच्छे नतीजों के दम पर आज ये शेयर 5 फीसदी भागा। 30 जून 2021 को समाप्त तिमाही में कंपनी का मुनाफा 574.3 करोड़ रुपए पर रहा जबकि इसके 721 रुपए पर रहने का अनुमान किया गया था। बता दें कि इसके पिछले साल की पहली तिमाही में कंपनी का मुनाफा 219.6 करोड़ रुपए पर रहा था। इस तिमाही में कंपनी के मुनाफे में सालाना आधार पर  161% का उछाल देखने को मिला है।

Tata Motors | CMP: Rs 301.85 | स्टॉक मार्केट के लोकप्रिय इनवेस्टर्स में शामिल राकेश झुनझुनवाला ने अप्रैल-जून तिमाही के दौरान टाटा ग्रुप की एक अन्य कंपनी में अपनी हिस्सेदारी कम की है। उन्होंने टाटा मोटर्स में अपना स्टेक घटाया है। चिप की सप्लाई में कमी से प्रोडक्शन पर असर पड़ने की रिपोर्ट आने के बाद इस महीने टाटा मोटर्स के शेयर में भारी गिरावट आई थी। कंपनी के जून तिमाही के शेयरहोल्डिंग पैटर्न से पता चलता है कि झुनझुनवाला की इसमें हिस्सेदारी घटकर 1.14 प्रतिशत रह गई है, जो पहले 1.29 प्रतिशत की थी। उन्होंने टाइटन कंपनी में भी हाल ही में हिस्सेदारी घटाई थी। इस खबर के चलते आज ये शेयर 2 फीसदी से ज्यादा टूटा है।

HDFC Life Insurance | CMP: Rs 663.10 | कमजोर नतीजों का असर आज इस शेयर पर दिखा और ये 2 फीसदी तक टूट गया। पहली तिमाही में कंपनी के मुनाफे में गिरावट देखने को मिली है। 30 जून 2021 के खत्म हुई पहली तिमाही में कंपनी का मुनाफा पिछले साल की पहली तिमाही के 450.5 करोड़ रुपए से घटकर 269.6 करोड़ रुपए पर आ गया है।

HCL Tech | CMP: Rs 977 | कंपनी के नतीजे बाजार को पसंद नहीं आए हैं। आज ये शेयर 2 फीसदी से ज्यादा गिरा है। HCL TECH ने 30 जून 2021 के खत्म हुए वित्त वर्ष 2021-22 के पहली तिमाही के नतीजे पेश कर दिए हैं। इस अवधि में कंपनी का कंसो मुनाफा  वित्त वर्ष 2020-21 के चौथी तिमाही के 1100 करोड़ रुपए से बढ़कर 3210 करोड़ रुपए पर आ गया है। इस अवधि में कंपनी की कंसो आय  पिछली तिमाही के 19,640 करोड़ रुपए से बढ़कर 20,070 करोड़ रुपए पर रही है। बता दें कि एनलिस्ट को कंपनी के आय के 20303 करोड़ रुपए पर और मुनाफे के 3253 करोड़ रुपए पर रहने का अनुमान था।

ACC | CMP: Rs 2,301 | मजबूत नतीजों का असर आज इस शेयर पर दिखा और ये 6 से ज्यादा की बढ़त के साथ बंद हुआ। जून तिमाही में ACC ने मजबूत नतीजे पेश किए। कंपनी के मुनाफे में 66 प्रतिशत और REVENUE में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी दिखाई दी। कंपनी का realisation और sales Volume भी उम्मीद से ज्यादा रहा। हालांकि मार्जिन में इन्वेंटरी एडजस्टमेंट की वजह से कमजोरी रही। सालाना आधार पर कैलेंडर वर्ष 2021 की की दूसरी तिमाही में एसीसी की आय 49.3 प्रतिशत बढ़कर 3885 करोड़ रुपये रही जबकि कैलेंडर वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में कंपनी की आय 2602 करोड़ रुपये रही थी।

Newgen Software | CMP: Rs 664.60 | वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में कंपनी के मुनाफे में 59 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। इसका असर आज कंपनी के शेयरों पर देखने को मिला और ये 5 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ।

Shyam Metalics | CMP: Rs 441.50 | स्टॉक मार्केट में हाल ही में लिस्ट हुई Shyam Metalics ने पहली तिमाही के लिए अच्छा रिजल्ट दिया है। कंपनी का नेट प्रॉफिट लगभग 470 प्रतिशत बढ़कर 458 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो पिछले वर्ष की समान अवधि में केवल 80 करोड़ रुपये का था। कंपनी का कुल रेवेन्यू बढ़कर 2,465 करोड़ रुपये रहा। यह पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 911.8 करोड़ रुपये था। आज इस शेयर में 2 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है।

Bajaj Finance | CMP: Rs 5,965.15 | कमजोर नतीजों के बाद आज ये शेयर लाल निशान में बंद हुआ है। वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में बजाज फाइनेंस का  मुनाफा 843 करोड़ रुपए पर रहा है। हालांकि इसके 1446 करोड़ रुपए पर रहने का अनुमान था। बता दें कि इस अवधि में कंपनी का मुनाफा पिछलं साल की पहली तिमाही के 870 करोड़ रुपए से घटकर 843 करोड़ रुपए पर आया है। इस अवधि में कंपनी की आय 5920 करोड़ रुपए पर रही है। बता दें किं पिछले साल की पहली तिमाही में कंपनी की आय 5900 करोड़ रुपए रही थी। इस अवधि में कंपनी का कंसो मुनाफा 1,002.4 करोड़ रुपए रहा है। जबकि एनालिस्ट ने इसके 1,446 करोड़ रुपए रहने का अनुमान किया था। पहली तिमाही में कंपनी की ब्याज आय (NII)4489 करोड़ रुपए रही है। इसके 4,339 करोड़ रुपए पर रहने का अनुमान किया गया था।

Adani Group stocks fall | अडानी ग्रुप के शेयरों में 20 जुलाई को लगातार दूसरे दिन दबाव नजर आया। कंपनी के शेयरों में लोअर सर्किट लगा। इससे पहले संसद में वित्त राज्य मंत्री ने बताया था कि अडानी ग्रुप की कंपनियां सेबी और DRI (Directorate of Revenue Intelligence) की जांच के घेरे में हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The Latest

To Top